Falak pe jitne sitare hai wo bhi sarmaye | Lyrics | Movie Mere Huzoor


ABOUT

Song : Falak pe jitne sitare hai wo bhi sarmaye
Movie/album : Mere Huzoor
Singers : Mohammed Rafi
Song Lyricists : Hasrat Jaipuri
Music Director : Jaikishan Dayabhai Panchal, Shankar Singh Raghuvanshi

Find below Hindi Song Lyrics, Karaoke or Sing Along track, and English translation of the Song

ORIGINAL


KARAOKE


LYRICS

ENGLISH LYRICS

Falaq pe jitane sitaare
Hai wo bhi sharamaaye
O dene waale mujhe
Itani zindagi de de
Yahi sazaa hai meri
Maut hi na aaye mujhe
Kisi ko chain mile
Mujhako bekali de de


Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa
Saans ki lay pe teraa
Naam liye jaaungaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa


Haay tune mujhe ulfat
Ke sivaa kuchh na diyaa
Aur maine tujhe nafarat
Ke sivaa kuchh na diyaa
Haay tune mujhe ulfat
Ke sivaa kuchh na diyaa
Aur maine tujhe nafarat
Ke sivaa kuchh na diyaa
Tujhase sharamindaa hun
Ai meri vafaa ki devi
Teraa mujarim hun musibat
Ke sivaa kuchh na diyaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa
Saans ki lay pe teraa
Naam liye jaaungaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa


Tu khayaalo me mere
Ab bhi chali aati hai
Apani palako pe un ashko
Kaa janaazaa lekar
Tu khayaalo me mere
Ab bhi chali aati hai
Apani palako pe un ashko
Kaa janaazaa lekar
Tune ninde kari qurabaan
Meri raaho me mai nashe
Me rahaa gairo
Kaa sahaaraa lekar
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa
Saans ki lay pe teraa
Naam liye jaaungaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa
Gam uthaane ke liye
Mai to jiye jaaungaa.

HINDI LYRICS


फलक पे जितने सितारे
है वो भी शरमाये
ो देने वाले मुझे
इतनी ज़िन्दगी दे दे
यही सज़ा है मेरी
मौत ही न आये मुझे
किसी को चैन मिले
मुझको बेकली दे दे

गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा
सांस की लय पे तेरा
नाम लिए जाऊंगा
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा

हाय तूने मुझे उल्फ़त
के सिवा कुछ न दिया
और मैंने तुझे नफ़रत
के सिवा कुछ न दिया
हाय तूने मुझे उल्फ़त
के सिवा कुछ न दिया
और मैंने तुझे नफ़रत
के सिवा कुछ न दिया
तुझसे शर्मिंदा हूँ
ऐ मेरी वफ़ा की देवी
तेरा मुजरिम हूँ मुसीबत
के सिवा कुछ न दिया
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा
सांस की लय पे तेरा
नाम लिए जाऊंगा
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा

तू ख्यालों में मेरे
अब भी चली आती है
अपनी पलको पे उन अश्को
का जनाज़ा लेकर
तू ख्यालों में मेरे
अब भी चली आती है
अपनी पलको पे उन अश्को
का जनाज़ा लेकर
तूने नींदे करि क़ुरबान
मेरी राहों में मैं नशे
में रहा गैरो
का सहारा लेकर
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा
सांस की लय पे तेरा
नाम लिए जाऊंगा
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा
गम उठाने के लिए
मई तो जिए जाउँगा.

Previous Post Next Post